भारतीय सेना की खुली भर्ती 18 मार्च से 25 मार्च 2021

भारतीय सेना की खुली भर्ती 18 मार्च से 25 मार्च 2021 तक हिमाचल प्रदेश की उना

open-rally-Himachal-Pradesh-unna 2021

सेना की खुली भर्ती 18 मार्च से हिमाचल प्रदेश के उना में
– चरखी दादरी सहित चार जिलों के उम्मीदवारों का रजिस्ट्रेशन शुरू अगर आप भी इन जिलोंंंंं में रहते हैं तो रजिस्ट्रेशन करना ना भूले

पंजीकरण करने की लास्ट डेट

पंजीकरण करने की लास्ट डेट 2 मार्च 2021 रखी गई है इससे पहले आप कभी भी अपना पंजीकरण करवा सकते हैं कृपया यह अवश्य जांच लें की आप भारतीय सेना में सभी प्रकार की योग्यताओं को पूरा करते हो अन्यथा आप का पंजीकरण रद्द कर दिया जाएगा

4 जिले जिनके प्रतिभागी ले सकते हैं सेना की खुली भर्ती में हिस्सा

महेंद्रगढ़

  • भिवानी
  • रेवाड़ी
  • चरखी दादरी

महत्वपूर्ण तिथियां और स्थान

– आगामी 02 मार्च 2021 तक कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन
चरखी दादरी, 3 फरवरी। आगामी 18 से 25 मार्च तक सेना में सिपाही फार्मा के पद पर हिमाचल प्रदेश के उना स्थित इंदिरा गाँधी स्पोर्ट्स स्टेडियम में खुली भर्ती का आयोजन होगा। इसके लिए चरखी दादरी, महेन्द्रगढ, रेवाड़ी और भिवानी जिलों के उम्मीदवारों के रजिस्ट्रेशन शुरू हो गए है, जिसकी अंतिम तिथि 02 मार्च 2021 है। इस भर्ती से संबंधित पूरी जानकारी के लिए ज्वाईनइंडियनआर्मीडॉटएनआईसीडॉटआईएन वेबसाइट देखी जा सकती है।

प्रवेश पत्र आएगा ईमेल पर

खुली भर्ती के बारे में जानकारी देते हुए सेना भर्ती कार्यालय चरखी दादरी के निदेशक मेजर अजीत घोष ने बताया कि रजिस्ट्रेशन के बाद प्रार्थी का प्रवेश पत्र उसके ई-मेल पर भेज दिया जाएगा और इस पत्र में दर्शाए गए दिन व समय पर ही उम्मीदवार को निर्धारित स्थान पर पहुंचना होगा।

भर्ती रैली में जाने से पहले रखें ध्यान

भर्ती रैली में जाने से पहले सभी उम्मीदवार अपने दांत व कानों की सफाई, बालों की कटिंग और शरीर को साफ-सुथरा कर लें।

अजीत घोष :- ने बताया कि कोरोना महामारी को देखते हुए भर्ती में भाग लेने के लिए सभी उम्मीदवारों को कोविड की जाँच करवाना तथा कोरोना वायरस मुक्त प्रमाण पत्र लाना आवश्यक है। जिन उम्मीदवारों के पास जरूरी दस्तावेजों की मूल प्रति नहीं होगी, उन्हें रैली में भाग लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पर्याप्त दस्तावेज के अभाव में उम्मीदवार का नामांकन सूची से नाम काट दिया जाएगा।

जालसाज उनके चंगुल से दूर रहें

भर्ती निदेशक ने आवेदन करने वाले युवाओं से कहा है कि वे दलालों व जालसाजों के चंगुल से दूर रहें। सेना की भर्ती में पूर्ण पारदर्शिता बरती जाएगी और योग्यता के आधार पर ही उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा। रिश्वत लेना या देना, फर्जी प्रमाण पत्र का इस्तेमाल करके या अनुचित साधनों के प्रयोग में शामिल होना एक दंडनीय अपराध है। किसी भी उम्मीदवार ने ऐसा करने का प्रयास किया तो उसके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई होगी।

Official website – Click here

Download notification – Click here

 

 

Treading

Load More...